खबर खास वायरल न्यूज़

मुकेश अंबानी के बंगले पर राइफल से गोली चली, कमांडो की इलाज के दौरान मौत

मुकेश अंबानी को ‘जेड प्लस’ स्तर का सर्वोच्च वीआईपी सुरक्षा कवर दिया गया है। उनकी हिफाजत के लिए सीआरपीएफ को तैनात किया गया है। उनकी पत्नी नीता अंबानी की सुरक्षा में भी सीआरपीएफ तैनात है।

मुंबई| रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी के घर पर तैनात सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) कमांडो की सर्विस वेपन की गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक, बुधवार की शाम अंबानी के निवास एंटीलिया के बाहर तैनात सीआरपीएफ कॉन्स्टेबल देवन रामभाई बकोतरा (31) की ऑटोमेटिक राइफल से गलती से गोलियां चल गईं। सीने में दो गोलियां लगने के बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
सीआरपीएफ के एक अधिकारी ने कहा- जांच में पता चला कि देवन ठोकर खाकर गिर गया था, जिससे उसकी ऑटोमेटिक राइफल से गोलियां चल गईं। दो गोलियां उसके सीने में जा लगीं। साथी सुरक्षाकर्मियों ने उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया, जहां उसने बुधवार की देर रात इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। गुरुवार को ऑटोप्सी के बाद देवन का शव उसके परिवार को सौंप दिया गया। देवन गुजरात के जूनागढ़ का रहने वाला था और 2014 में सीआरपीएफ में भर्ती हुआ था।
पुलिस ने दुर्घटना से मृत्यु का मामला दर्ज किया
मुंबई पुलिस के डिप्टी कमिश्नर राजीव जैन ने कहा- मृतक सीआरपीएफ कॉन्स्टेबल देवन का शव मुकेश अंबानी के दक्षिण मुंबई में पेडर रोड स्थित निवास एंटीलिया के बाहर सीआरपीएफ पोस्ट पर मिला। यह दुर्घटना से फायरिंग का मामला है। इसे देखकर आत्महत्या नहीं कहा जा सकता। गामदेवी पुलिस स्टेशन में दुर्घटना से मृत्यु का मामला दर्ज कर लिया गया है और घटना के कारणों की विस्तृत जांच जारी है।
मुकेश अंबानी को ‘जेड प्लस’ सुरक्षा
मुकेश अंबानी को ‘जेड प्लस’ स्तर का सर्वोच्च वीआईपी सुरक्षा कवर दिया गया है। उनकी हिफाजत के लिए सीआरपीएफ को तैनात किया गया है। उनकी पत्नी नीता अंबानी की सुरक्षा में भी सीआरपीएफ तैनात है। हालांकि, उन्हें ‘वाय’ श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है।

(bhaskar.com)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *