सिटी इवेंट

कोरोना का कहर : ग्वालियर में मिले एक साथ पांच नये मरीज, मुरैना में हो गए 13

  • अचानक सामने आए मरीजों से ग्वालियर के 0 होने की मुहिम पर फिरा पानी

  • ग्वालियर के चार मरीजों में दो महिलाएं भी शामिल एक युवा भी शामिल

    ग्वालियर। पिछले सात दिनों से ग्वालियर में सबकुछ ठीक चल रहा था। प्रशासन के प्रयासों के चलते जल्द ही कोरोना मरीजों के मामले में शहर 0 होने वाला था कि अचानक मंगलवार को उस वक्त अरमानों पर पानी फिर गया। जब अचानक चार सदस्यों की रिपोर्ट कोरोना पॉॅजीटिव आई। इनमें से दो महिलाएं भी शामिल हैं। चार नए मरीज सामने आने से शहर में अब पांच मरीज हो गए हैं। जबकि पहले के दो में से एक मरीज सही होकर घर आ चुका है। चार नए मरीज सामने आने की खास वजह है लॉक डाउन का मजाक बनाना और आमजन द्वारा इसका सही तरीके से पालन न करना है।

    मुरैना में दुबई से लौटे मरीज का पडोसी भी निकला कोरोना पॉजीटिव |

    कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि ग्वालियर जिले में मंगलवार 7 अप्रैल को 4 प्रकरणों में पॉजिटिव रिपोर्ट प्राप्त हुई है। पॉजिटिव पाए गए सभी मरीजों को उपचार हेतु सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में भर्ती कर उपचार प्रारंभ कर दिया गया है। पॉजिटिव पाए गए 4 प्रकरणों में 3 प्रकरण ग्वालियर जिले के बाहर के हैं। इनमें महाराष्ट्र, सहारनपुर एवं इंदौर से आए मरीज शामिल हैं।एक मरीज की विस्तृत जांच हेतु मेडीकल टीम भेजी गई है।कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिले में होम क्वारंटाइन किए गए लोगों की संख्या 1428 है।
    जबकि विदेश से आए हुए यात्रियों की संख्या 496 है। जिले में अब तक 3 हजार 829 लोगों की स्क्रीनिंग की गई है। ग्वालियर जिले में यात्रियों के लिये कुल 7 कैम्प बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि ग्वालियर जिले में पाए गए चारों पॉजिटिव मरीजों के संबंधियों एवं उनकी यात्रा के संबंध में विस्तृत जानकारी टीम द्वारा एकत्रित की जा रही है। उनके क्षेत्र के अन्य लोगों की जांच भी प्रशासन द्वारा
    कराई जायेगी।
    कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र सिंह ने ग्वालियर में नए पॉजिटिव केस मिलने के बाद लॉकडाउन का पालन और सख्ती से करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने जिले की आम जनता से भी अपील की है कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु हर व्यक्ति सहयोग करे और अपने घर में ही रहे। अनावश्यक रूप से कोई भी व्यक्ति घर के बाहर न निकले। नोवेल कोरोना के संक्रमण से बचने का एक मात्र तरीका सावधानी है। जिले का हर नागरिक अपने घर में रहे और प्रशासन द्वारा जारी किए गए प्रतिबंधात्मक आदेशों का पालन करे।
    मुरैना में एक ही परिवार के 12 सदस्य
    एक नया मरीज सामने आने के बाद अब मुरैना में संख्या 13 हो गई हैं। सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि इनमें 12 मरीज एक ही परिवार के हैं। जबकि एक नया मरीज दुबई से लौटे कोरोना मरीज के घर के पास ही रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *