खबर खास

सिंधिया का दो महीने में ही भाजपा से हुआ मोहभंग.. करेंगे कांग्रेस में घरवापसी! जानिये क्या है सच्चाई?

  • ज्योतिरादित्य सिंधिया के बारे में एक वायरल ट्वीट ने एमपी में राजनीतिक तापमान तो बढ़ा दिया, लेकिन ट्वीट पर प्रतिक्रिया देने वालों ने उसकी सत्यता पर ध्यान नहीं दिया। सिंधिया ने इस पर अपनी चुप्पी अब तक नहीं तोड़ी, लेकिन उनके समर्थकों का आरोप है कि कांग्रेस महाराज के बारे में भ्रामक खबरें फैला रही है।

    ज्योतिरादित्य सिंधिया क्या भाजपा छोड़ने वाले हैं? क्या दो महीने में ही उनका बीजेपी से मोहभंग हो गया है? क्या सिंधिया कांग्रेस में घरवापसी कर रहे हैं? ऐसे कई सवाल हैं, जिनके चलते मध्य प्रदेश के राजनीतिक हलकों में बीते दो दिनों से लगातार सरगर्मी बनी हुई है। कांग्रेस, बीजेपी या खुद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ओर से इन सवालों पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन कयासों का दौर थमने का नाम नही ले रहा है।

——|| खास – बात  ||——-
– ज्योतिरादित्य सिंधिया की घरवापसी को लेकर एमपी में लग रहे कयास
– एक वायरल ट्वीट से सिंधिया के भविष्य को लेकर गर्म हुई चर्चाएं
– ट्वीट में किया दावा, बीजेपी से निराश सिंधिया कांग्रेस में वापस आएंगे
– सिंधिया समर्थकों का आरोप, कांग्रेस फैला रही इस तरह की अफवाह
  • ट्वीट से हुई शुरुआत
    सिंधिया को लेकर इन सवालों की शुरुआत एक ट्वीट से हुई। एक न्यूज चैनल के पैरोडी अकाउंट से किए गए ट्वीट में बताया गया कि सिंधिया प्रदेश कैबिनेट में अपने समर्थकों को मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज हैं। उन्हें खुद भी केंद्र में मंत्री बनाने का वादा किया गया था, लेकिन ये अब तक पूरा नहीं हुआ और वे जल्द ही भाजपा छोड़ कांग्रेस में घर वापसी कर सकते हैं।
    वायरल ट्वीट से हलचल
    इस ट्वीट को कुछ घंटों के अंदर ही करीब 12 हजार लोगों ने लाइक किया। राजनीतिक कानाफूसी भी तेज हो गई क्योंकि ट्वीट में सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान पर सिंधिया के साथ धोखा करने का आरोप लगाया गया था। इसमें यह भी कहा गया था कि सिंधिया सोमवार तक दोबारा कांग्रेस ज्वाइन कर सकते हैं। लोग इस संभावना के आधार पर प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान सरकार के भविष्य को लेकर भी कमेंट करने लगे। वहीं, कुछ लोग प्रदेश की सत्ता में कांग्रेस की वापसी के कयास भी लगाने लगे।
  • यह भी पढिये  @ बड़ी खबर : प्रदेश सरकार ने ग्वालियर-चंबल अंचल के विकास के लिए उठाया बड़ा कदम
    यहां हुई गड़बड़
    ट्वीट पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आने लगीं। अधिकांश लोग सिंधिया के साथ बीजेपी पर भी फिकरे कसने लगे। प्रतिक्रिया देने की जल्दी में यूजर्स ने ट्वीट करने वाले अकाउंट की सत्यता पर ध्यान नहीं दिया। उस अकाउंट के साथ लगी तस्वीर में ही स्पष्ट किया गया है कि यह न्यूज चैनल का फर्जी अकाउंट है।

कांग्रेस का हाथ
बाद में ज्योतिरादित्य सिंधिया के सहायक ने भी ट्वीट के फर्जी और भ्रामक होने की पुष्टि की। उन्होंने इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि यह जानबूझकर किया जा रहा है। उन्होंने मीडिया में आई कुछ अन्य खबरों का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस की आईटी सेल सिंधिया के बारे में झूठी खबरें प्रसारित कर रहा है। उन्होंने सिंधिया की घर वापसी की किसी भी संभावना को भी सिरे से नकार दिया।
होली के दिन बीजेपी में हुए शामिल
मध्य प्रदेश के गुना से पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया करीब 18 साल तक कांग्रेस में रहने के बाद करीब दो महीने पहले होली के दिन बीजेपी में शामिल हुए थे। उनके साथ एमपी में कांग्रेस के 22 विधायकों ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और बीजेपी की सदस्यता ले ली थी। सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने से कमलनाथ के नेतृत्व वाली प्रदेश सरकार संकट में आ गई और कमलनाथ को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। इसके बाद शिवराज सिंह चौहान ने चौथी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। (nbt)


Web Title :  jyotiraditya scindia’s homecoming: twitter raises debate about shivraj singh chouhan government’s future

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *