अपराध रीजनल न्यूज़

सब इंस्पेक्टर 10 महीने से कर रहा था नाबालिग का शोषण, युवती की शिकायत पर पकड़ा गया

  • मध्य प्रदेश में एक सब इंस्पेक्टर को नाबालिग के शोषण के आरोप में रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है। वह पिछले 10 माह से नाबालिग का जरबन शोषण कर रहा था। वह लड़की को गंदे मैसेज भेजता था और अश्लील चैट करता था। वह लड़की शारीरिक शोषण की नीयत से उसे होटल में लेकर आया था। जहां लड़की की सूचना पर पुलिस ने उसे मौके से पकड़ लिया।

इंस्पेक्टर या हैवान : नाबालिग को भेजता था गंदे मैसेज और करता था अश्लील चैट | 

उज्जैन। नीलगंगा थाना पुलिस ने एक्साइज विभाग में सब इंस्पेक्टर पंकज जैन को मंगलवार के दिन होटल मधुबन से एक नाबालिग युवती के साथ गिरफ्तार किया है। युवती की शिकायत पर ही पुलिस ने सब इंस्पेक्टर को होटल से रंगे हाथों गिरफ्तार किया। युवती का आरोप है कि अधिकारी उसके साथ पिछले 10 महीने से गंदी हरकत कर रहा था। आरोपी सब इंस्पेक्टर के साथ होटल के दो कर्मचारी भी गिरफ्तार किए गए हैं।
नीलगंगा थाना क्षेत्र में रहने वाली 17 वर्षीय युवती ने सोमवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। युवती ने बताया था कि वह सब इंस्पेक्टर पंकज जैन के घर पर काम करती है। इसी का फायदा उठाकर सब इंस्पेक्टर पिछले 10 महीने से उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बना रहा है। पुलिस के मुताबिक लड़की का लंबे समय से सब इंस्पेक्टर के घर आना-जाना रहा है क्योंकि पहले उसकी मां वहां काम करती थी।
सब इंस्पेक्टर नाबालिग युवती को ब्लू फिल्में भेजता था और अश्लील चैटिंग भी करता था। लड़की को चुप रखने के लिए वह उसे पुलिस केस में फंसाने और डराने-धमकाने की कोशिश करता था। वह अक्सर लड़की को होटल मधुबन में बुलाता था और फिर शारीरिक शोषण करता था।
मंगलवार को युवती को पंकज जैन ने फिर होटल मधुबन में बुलाया था। लड़की ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस अधिकारियों ने दो टीमें गठित की जिनमें एक टीम होटल पर निगरानी कर रही थी। दूसरी टीम पंकज जैन का पीछा करते हुए मधुबन होटल पहुंची थी। होटल में पंकज जैन ने बिना अपना नाम रजिस्टर किए रूम ले लिया था। पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए जैन को धारा 376 और पास्को एक्ट में गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी सब इंस्पेक्टर के साथ होटल मधुबन के दो कर्मचारियों को भी गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने इसकी सूचना आबकारी विभाग के आयुक्त को दी और आरेपी को जेल भेज दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *